Home » Yoga

Yoga

गगनभेदी प्राणायाम करने की विधि और लाभ

गगनभेदी प्राणायाम करने की विधि और लाभ

गगनभेदी प्राणायाम: विधि वज्रासन में बैठें। एक हस्ती मुद्रा लगाएं अर्थात् बाएं हाथ के अंगूठे का ऊपरी भाग छोटी अंगुली की जड़ में रख कर मुट्ठी बन्द करके उसे बाएं घुटने से 4 अंगुल की दूरी पर रखें। हथेली की गद्दी का स्पर्श अच्छी तरह से होता रहे। दाएं हाथ की मुट्ठी बंद करके उसके अंगूठे की कोमल भाग दाईं …

Read More »

सिजोफ्रेनिया: विखंडित मानसिकता लक्षण, कारण, उपचार

सिजोफ्रेनिया (Schizophrenia): विखंडित मानसिकता लक्षण, कारण, उपचार

विखंडित मानसिकता (Schizophrenia) दोनों का शाब्दिक अर्थ है – ‘मन का टूटना‘। यह एक मानसिक विकार है। इसमें एक व्यक्ति की सोचने, काम करने, भावनाओं को अभिव्यक्त करने, वास्तविकता को पहचान पाने और दूसरों से सम्बन्ध रखने की क्षमता कम हो जाती है। रोगी वास्तविकता से दूर कल्पनाओं में रहता है। रोगी को बिना किसी आवाज के आवाजें सुनाई देती …

Read More »

मिर्गी के लक्षण, कारण और योग से मिर्गी का उपचार

मिर्गी के लक्षण, कारण और योग से मिर्गी का उपचार

मिर्गी (Epilepsy) एक नर्वस सिस्टम का रोग है, जिसमें मस्तिष्क से शरीर में संदेश जाने की प्रक्रिया में रुकावट आने से, शरीर की मांसपेशियों में तनाव आ जाता है, कुछ अंग कांपने / फड़कने लगते हैं। रोगी बेहोश होकर गिर पड़ता है तथा मुख से झाग इत्यादि निकलता है। यह दौरा 15 मिनट से 2 घंटे तक रहता है। तत्पश्चात् …

Read More »

मानसिक रोग क्या और क्यों?

मानसिक रोग / Mental illness

देखा जाए तो कोई भी व्यक्ति पूरी तरह से सामान्य नहीं होता। दैनिक जीवन के उतार-चढ़ाव में सभी को कभी-न-कभी निराशा, चिंता, क्रोध, भय, बेचैनी, घबराहट, हताशा, भ्रामक विचार, शक, सहानुभूति चाहना, ईर्ष्या, द्वेष आदि भावनाओं का सामना करना पड़ता है। यदि ये थोड़े समय तक रहते हैं तो वे मानसिक रोग नहीं कहलाते। ये तो जीवन के हिस्से हैं। …

Read More »

युवाओं में होने वाले तनाव व अवसाद

Too much of Social Media causes Depression

सामान्यतः तनाव हर वर्ग के व्यक्ति को होता है, चाहे वह महिला हो या पुरुष, वृद्ध हो या युवा, उसको रोजगार प्राप्त है या बेरोजगार तथा वह अमीर है या गरीब। तनाव होने पर इसका बुरा प्रभाव मन व शरीर दोनों पर अवश्य ही पड़ता है। युवाओं में तनाव होने का दोष वर्तमान युग में बहुत तेजी से बढ़ रहा …

Read More »

सिरदर्द या माइग्रेन से बचने के लिए योगासन

सिरदर्द, माइग्रेन से बचने के लिए योगासन

अगर आप भी सिरदर्द या माइग्रेन (Migraine) की तकलीफ से गुजर रहे हों तो रोजाना कुछ मिनटों के लिए योग का अभ्यास करें। यह आपके शरीर को आगामी माइग्रेन अटैक से लड़ने के लिए तैयार होने में मदद करेगा। योग, सिरदर्द या माइग्रेन के खिलाफ प्रतिरोधकता को बेहतर बनाने का एक माध्यम है। योगासन जिनसे माइग्रेन में मिलेगी राहत: सेतु …

Read More »

5 reasons to practice meditation हर दिन ध्यान करें

5 reasons to practice meditation हर दिन ध्यान करें

आज के व्‍यस्‍त जीवन में, जहां दौड़-भाग जीवन का हिस्‍सा बन गया है। वहां खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से स्‍वस्‍थ और संतुलित रखने की कोशिश करने का समय बहुत सीमित हो गया है। आज के व्यस्त दौड़-भाग जीवन का हिस्सा खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ और संतुलित रखने की कोशिश करने का समय बहुत सीमित …

Read More »

उड्डियान बंध योगासन शरीर को सुड़ौल बनाता है

Uddiyana Bandha Asana शरीर को सुड़ौल बनाता है

उड्डियान बंध योगासन जीवन शक्ति को बढ़ाकर हमें दीर्घायु बनाता है। शरीर को सुडौल और स्फूर्तिदायक बनाए रखता है। आंतों, पेट के अन्य अंगों को बल देता है। मोटापा नहीं आने देता। डायबिटीज में बड़ा लाभकारी है। भूख ना लगना, कब्ज, गैस, एसीडिटी जैसे पेट के रोगों को दूर करने वाला है। बार-बार पेशाब जाना आदि मूत्रदोष में आराम पहुंचाता …

Read More »

मैडिटेशन एप्स: कितने कारगर हैं ये मोबाइल एप्स

मैडिटेशन एप्स: कितने कारगर हैं

इन दिनों हर काम आसान करने के लिए मोबाइल apps हैं। ध्यान लगाना यानी ‘मैडिटेशन’ भी अब इन applications की पहुच से दूर नहीं है। हाल के दिनों में उनकी लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है जिनमें सबसे लोकप्रिय है “Headspace“। हालांकि, सवाल है की क्या मोबाइल पर ही लोग आंतरिक शांति प्राप्त कर सकते हैं। हिमालय में बौद्ध भिक्षु से …

Read More »

चेहरे को जवान रखेगा फेस योगा

Hindi Poem on Yoga अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस - 21 जून

विदेशों में आजकल ‘फेस योगा’ की बड़ी धूम है। माना जा रहा है कि यह चेहरे पर बुढ़ापे की निशानियों को दूर रखने में खूब मदद कर सकता है। विशेषज्ञ तो यह भी दावा कर रहे हैं कि प्रतिदिन कम-से-कम 5 मिनट तक ‘फेस योग’ तहत चेहरे की मांसपेशियों की कसरत से 4 महीनों के भीतर ही आप अपने चेहरे …

Read More »