Home » Javed Akhtar

Javed Akhtar

Son of well-known Urdu poet and film lyricist Jan Nisar Akhtar and Safia Akhtar, teacher and writer, Javed Akhtar belongs to a family lineage that can be traced back to seven generations of writers. The highly respected Urdu poet, Majaz was his mother’s brother and the work of Muzter Khairabadi, his grandfather, is looked upon as a milestone in Urdu Poetry. Javed Akhtar's body of work can be categorized under three distinct categories: a) Script Writer b) Lyricist c) Poet. Along with his ex-partner, Salim, he scripted super hits like, 'Zanjeer', 'Deewar',' Sholay', 'Haathi Mere Saathi', 'Seeta Aur Geeta', 'Don', 'Trishul', etc. Salim-Javed as a writer-duo gave to Indian Cinema the memorable persona of the ‘Angry Young Man’. After the split from his partner Salim (in 1981), he has written a list of successful films, notable amongst them are; 'Sagar', 'Mr. India', 'Betaab', 'Arjun' and Lakshya etc.

लो आ गयी लोहड़ी वे: जावेद अख्तर

लो आ गयी लोहड़ी वे - जावेद अख्तर

लो आ गयी लोहड़ी वे,बना लौ जोड़ी वे,कलाई कोई यू थामो, ना जावे छोड़ी वे,ना जावे छोड़ी वेछूठ ना बोली वे,कुफर ना टोली वे,जो तुने खायी थी कसमे, इक इक तोड़ी वे,इक इक तोड़ी वेलो आ गयी लोहड़ी वे,बना लो जोड़ी वे…तेरे कुर्बान जावा, तेरी मर्ज़ी जान जावा,तोह हर बात मान जावा, तेरी सोनिये…ओय-ओय-ओय तेरे कुर्बान जावातेनु मै जान-दिया, खूब …

Read More »

राधा कैसे ना जले: जावेद अख्तर हिंदी फ़िल्मी गीत

राधा कैसे ना जले - जावेद अख्तर

राधा कैसे ना जले: लगान मधुबन में जो कन्हैया किसी गोपी से मिले कभी मुस्काये, कभी च्छेदे, कभी बात करे राधा कैसे ना जले, राधा कैसे ना जले आग टन मॅन में लगे राधा कैसे ना जले, राधा कैसे ना जले मधुबन में भले कान्हा किसी गोपी से मिले मॅन में तो राधा के ही प्रेम के हैं फूल खिले …

Read More »

जागे हैं अब सारे लोग तेरे देख वतन: जावेद अख्तर देश भक्ति गीत

Acclaimed Indian director Shyam Benegal is best known for his intimate portraits of Indian women, so it comes as some surprise that his latest offering is a biopic of one of India’s most famous male icons, Netaji Subhas Chandra Bose. Sachin Khedekar plays Bose, a revolutionary whose mission is to rid India of the British Empire, even if it means …

Read More »

ऐसा देस है मेरा: जावेद अख्तर का लोकप्रिय फ़िल्मी देश भक्ति गीत

ऐसा देस है मेरा - जावेद अख्तर

जावेद अख़्तर का नाम भारत देश का बहुत ही जाना-पहचाना नाम हैं। जावेद अख्तर शायर, फिल्मों के गीतकार और पटकथा लेखक तो हैं ही, सामाजिक कार्यकर्त्ता के रूप में भी एक प्रसिद्ध हस्ती हैं। इनका जन्म 17 जनवरी 1945 को ग्वालियर में हुआ था। पिता जाँ निसार अख़्तर प्रसिद्ध प्रगतिशील कवि और माता सफिया अखतर मशहूर उर्दु लेखिका तथा शिक्षिका …

Read More »

ये तारा वो तारा हर तारा: जावेद अख्तर

Shahrukh Khan

ये तारा वो तारा हर तारा, देखो जिसे भी लगे प्यारा ये सब साथ में, जो हैं रात में, तो झगमगाया आसमान सारा झगमग तारें, दो तारें, नौ तारें, सौं तारें, झगमग सारे, हर तारा हैं शरारा तुमने देखी है धनक तो, बोलो रंग कितने हैं सात रंग कहने को, फिर भी संग कितने हैं समझो सबसे पहले तो, रंग …

Read More »

मोरया रे – जावेद अख्तर

Shankar Mahadevan's Ganesh Chaturthi Devotional Song मोरया रे

मेरे सारे पलछिन सारे दिन तरसेंगे सुन ले तेरे बिन तुझको फिर से जलवा दिखाना ही होगा अगले बरस आना है आना ही होगा देखेंगी तेरी राहें, प्यासी प्यासी निगाहें तो मान ले तू मान भी ले कहना मेरा लौट के तुझको आना है सुन ले कहता दीवाना है जब तेरा दर्सन पाएंगे चैन तब हमको पाना है मोरया मोरया …

Read More »

रॉक ऑन: जावेद अख्तर

Bollywood Rock Song about celebrating Friendship रॉक ऑन

दिल क्या कहता है मेरा क्या मैं बताऊँ तुम ये समझोगे शायद मैं पागल हूँ दिल क्या कहता है मेरा क्या मैं बताऊँ तुम ये समझोगे शायद मैं पागल हूँ दिल करता है टीवी टावर पे मैं चढ़ जाऊं चिल्ला चिल्ला के मैं ये सबसे कह दूँ रॉक ऑन है ये वक्त का इशारा रॉक ऑन हर लम्हा पुकारा रॉक …

Read More »

होली आई होली आई देखो होली आई रे – जावेद अख्तर

होली आई होली आई देखो होली आई रे - जावेद अख्तर

ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे खेलो खेलो रंग है, कोई अपने संग है भीगा भीगा अंग है… हो होली आई, होली आई देखो होली आई रे ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे बहकी बहकी चाल है, चेहरा नीला लाल है दीवाने क्या हाल है …

Read More »

चंदा रे चंदा रे, कभी तो ज़मीं पर आ – जावेद अख्तर

चंदा रे चंदा रे, कभी तो ज़मीं पर आ - जावेद अख्तर

ह: चंदा रे चंदा रे कभी तो ज़मीं पर आ बैठेंगे, बातें करेंगे तुझको आते इधर लाज आये अगर ओढ़ के आजा, तू बादल घने गुलशन, गुलशन, वादी वादी, बहती है रेशम जैसी हवा जंगल जंगल, पर्वत, पर्वत, हैं नींद में सब इक मेरे सिवा चंदा, चंदा आजा सपनों की नीली नदिया में नहायें आजा ये तारे चुनके हम, घर …

Read More »

Javed Akhtar’s Melodious Devotional Bhajan ओ पालनहारे

Javed Akhtar's Melodious Devotional Bhajan ओ पालनहारे

Dive into a world of tranquility with this beautiful composition by A.R. Rahman, Udit Narayan & Lata Mangeshkar, their flawless vocals have transformed this melodious devotional masterpiece and taken it to a whole new level. ओ पालनहारे, निर्गुण और न्यारे तुमरे बिन हमरा कौनो नाहीं… हमरी उलझन सुलझाओ भगवन तुमरे बिन हमरा कौनो नाहीं… तुम्ही हमका हो संभाले तुम्ही हमरे …

Read More »