Home » Gulshan Bawra

Gulshan Bawra

Gulshan Kumar Mehta, popularly known by his pen name Gulshan Bawra (12 April 1937 – 7 August 2009), was an Indian songwriter and actor in Hindi cinema. In a career spanning 42 years, he has to his credit about 240 songs, he collaborated with noted music directors like Kalyanji Anandji, Shankar Jaikishan, and R D Burman composed almost half of songs in films like Khel Khel Mein (1975), Kasme Vaade (1976) and Satte Pe Satta (1982). Apart from R.D. Burman hits, he is most remembered for his songs like, Mere Desh Ki Dharti in Upkaar (1968), and Yaari Hai Imaan Mera, Zanjeer (1974), both of which got him the Filmfare Best Lyricist Award. The latter also top the Binaca Geetmala annual list of 1973. As a character actor, he also appeared in a small number of Hindi films.

मेरे देश की धरती सोना उगले: गुलशन बावरा का देश प्रेम फ़िल्मी गीत

मेरे देश की धरती सोना उगले - गुलशन बावरा

गुलशन छह वर्ष की उम्र में कविता लिखने लगे थे। बचपन में ही मौत का दंश झेलने वाले गुलशन के गीतों में दर्द छलकता रहा। लोग इसमें डूबते रहे। विभाजन के बाद दिल्ली आकर यहां स्नातक की पढ़ाई की। इसके बाद मुंबई में गए और वहां संघर्ष शुरू हुआ। रेलवे में लिपिक की नौकरी की लेकिन मन गीतों में ही …

Read More »

यारी है ईमान मेरा: गुलशन बावरा

Bollywood Qawwali for Friendship & Faith यारी है ईमान मेरा

गर खुदा मुझ से कहे, कुछ मांग ऐ बन्दे मेरे मैं ये मांगू, महफिलों के दौर यूँ चलते रहे हमप्याला, हमनिवाला, हमसफ़र, हमराज हो ता क़यामत जो चिरागों की तरह जलते रहे यारी है ईमान मेरा, यार मेरी जिन्दगी प्यार हो बन्दों से ये सब से बड़ी है बंदगी साज-ए-दिल छेड़ो जहाँ में, प्यार की गूंजे सदा जिन दिलों में …

Read More »